थक जाती है जुबा मेरी जिंदगी से जब, शिकायत करने लगता हूं ऐसा नहीं है कि मैं मौत से डरता हूं भागना नहीं सिखाया तूने मुझे खुदा पर क्या दिया है जीवन जीने को यह तो बता। खत्म करने को जिंदगी कभी मन करने...
जब हम जिंदगी से हार जाते हैं, तब हम अपनी सारी उम्मीदें तोड़ जाते हैं, हर जगह अंधेरा दिखाई देता है, कुछ नहीं बचा हमें यह मान कर बैठ जाते हैं। वह सुबक-सुबक कर रोना मनज़ूर हो जाता है, जब हौसले का बांध टूट...
याद है वो पहली झलक जिस रोज़ तुझे देखा था, कुछ महसूस दिल को हुआ कुछ अंदर ही बस के रह गया। हुई न हिम्मत तुमसे कुछ कहने की दिन बीत गए एक लफ्ज़ कहने में, आया वो दिन जब खुसनसीबी मुझसे मिली घर कर गये...

हालात

कुछ सपने झिंझोरा करते हैं, हालात ऐसे हैं जो तोड़ा करते हैं, हकीकत है या सपना समझ नहीं आता, कौन सा ज्यादा प्यारा है, पता नहीं चल पाता।   जिसका साथ जीतना चाहते हैं, उसी से लड़ते हैं, इतना रोने के बाद भी ना जाने...
कभी दर्द सी, कभी ज़र्द सी ज़िंदगी बेनाम थी, बन गया अफसाना इक बात से पहली दफा, पा लिया है ठिकाना तेरे दिये हुए दर्द की है पनाह मेरी हँसी की वो एक वजह। इक वो नज़र, इक वो निगाह रूह में शामिल है तू इस...
वो होता है न, जो तू मूड़ के न देखती थी आँखों को जाने क्यूँ नम कर देती थी, जाने क्या ज़ोर है तेरे इश्क़ का मुझपे हल्का- हल्का मुझे तंग कर देती है। वक़्त की बात है, बदलता रहता है आज मैं हूँ...
जिसको प्यार करके हमने खुदको पूरा करना सीखा, जिसकी निगाहों को देखकर हमने जीना सीखा, आज उसी की मुस्कुराहत हमें जिंदा कर देती है, जब वो पलभर के लिए मुझे निगाहें भरकर देख लेती है। उसके प्यार ने मेरे अकेलेपन को तोड़ा है, हर...