badge

Tag: One sided love

मेरी हँसी की वो एक वजह।

मेरी हँसी की वो एक वजह।

Hindi poem
कभी दर्द सी, कभी ज़र्द सी ज़िंदगी बेनाम थी, बन गया अफसाना इक बात से पहली दफा, पा लिया है ठिकाना तेरे दिये हुए दर्द की है पनाह मेरी हँसी की वो एक वजह। इक वो नज़र, इक वो निगाह रूह में शामिल है तू इस तरह, ना जाने क्यूँ खो गयी मेरी हँसी की वो एक वजह। तेरे न होने से कहीं खुस तो था मैं कहीं अंदर ही अंदर बुझा तो था मैं, पर नजर का दोष है, तुझे ढूंढ ही लेता है दर्द में सुकून ढूंढने का मन बन ही जाता है। मैं जब भी देख लूँ, तुझे करीब से, एहसास होता है, मिल गया मुझे मेरा जहां जिसके बिना मैं अधूरा हूँ, मेरी मोहब्बत अधूरी है। जहां पहली दफा तू आ मिला था ठहरा हूँ वही मैं अभी, तेरा दिल वो गलियारा था, अफसोस वहाँ से लौट ना पाया मैं कभी। यादें आज भी जला देती है मुझे तुझसे दूर रहने की चाहत भी होती है कभी, पर मैं वक़्त को दगा कहूँ या दिल का कसूर, तुझे और तेरी वफ़ाई के तरफ दि
Follow

Get the latest posts delivered to your mailbox: