badge

तेरी उदासी

तेरी उदासी का असर मुझपर कुछ इस कदर छाता है,
न दिल रो पाता है, न ज़ाहिर कर पाता है,
दूर जाने का मतलब फासला नहीं होता,
कुछ फासलों से प्यार कम नहीं होता।

निगाहें भरकर इंतज़ार करना मेरा,
फिर उन्ही आँखों से दीदार करना मेरा,
कौन कहता है प्यार में सज़ा नहीं मिलती,
दूरियों की वज़ह नहीं मिलती।

ऐ आशिक, प्यार की ताकत आज तू दिखा दे,
विश्वास रख, इंतज़ार कर और खुदा को दिखा दे,
की उसकी दूनिया चलती है उसके इशारों से,
पर हमें एक दूसरे का सहारा दे।

मुझे चुरा ले जाना तुम उस खुदा के घर से,
चाहे फिर वो तुम्हे जिंदगी भर सज़ा दे,
तुम्हारे साथ तो अँगारों पर चलना मंज़ूर है,
फिर उसके बाद चाहे वो रज़ा दे, न दे।

हाथ पकड़कर चलना है साथ तुम्हारे,
रह गयी हूँ मैं बस एक तुम्हारे ही सहारे।

Comments

comments

8 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow

Get the latest posts delivered to your mailbox: